Friday, December 2, 2022
Home हेल्थ प्रेग्नेंसी का पता चलते ही इन बातों पर दें ध्यान

प्रेग्नेंसी का पता चलते ही इन बातों पर दें ध्यान

प्रेग्नेंसी के मामले में अक्सर देखा गया है कि महिलाओं को करीब एक-डेढ़ माह तक तो इसका पता ही नहीं चल पाता। इसके बाद जब वे अस्पताल पहुँचती हैं और डॉक्टर उन्हें सोनोग्राफी करवाने के लिए कहते हैं तो कई बार वे इससे कतराती हैं। ज्यादातर महिलाएँ सोनोग्राफी करवाने से बिलकुल मना कर देती हैं। जबकि भ्रूण के विकास के अध्ययन के लिए पहली सोनोग्राफी जाँच होना बेहद जरूरी होती है। इसे डेटिंग स्कैन भी कहा जाता है।

पहली सोनोग्राफी जाँच से प्रसव की तारीख का सही अनुमान लगाया जा सकता है। यह विश्वसनीय भी होती है। इसलिए महिलाओं को पहली सोनोग्राफी जाँच डॉक्टरी सलाह से जरूर करवानी चाहिए।गर्भावस्था में खास देखभाल की जरूर होती है। इसलिए महिला को गर्भ का पता चलते ही कुछ विशेष सावधानियाँ बरतनी चाहिए। शुरूआती तीन माह जोखिम भरे कहे जा सकते हैं। इस समय आपके लिए बदलाव बिलकुल नए होते हैं। खाने के टेस्ट से लेकर कई तरह के शारीरिक बदलावों से गुजरना होता है।

भावनात्मक व मानसिक रूप से मजबूत होना भी इस समय बेहद जरूरी है। अक्सर महिलाओं में इस समय चिड़चिड़ापन ज्यादा देखने को मिलता है। मूड स्विंग्स अधिक होते हैं। इस समय परिवारजनों के सहयोग की उन्हें बेहद आवश्यकता होती है। गर्भावस्था का पता चलते ही डॉक्टर की ओर से बताई गई जाँचें अवश्य करवानी चाहिए। इससे आपकी प्रेग्नेंसी में आने वाली मुश्किलों को दूर किया जा सकता है। जैसे हीमोग्लोबिन, ब्लड शुगर, थाइरॉइड की जाँच अवश्य करवानी चाहिए।

RELATED ARTICLES

कृष्णा फल को डाइट में करें शामिल, मिलेंगे स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदे

कृष्णा फल एक पौष्टिक फल है, जिसे भारत समेत दक्षिण अमेरिका, कैरिबियन, दक्षिण फ्लोरिडा, दक्षिण अफ्रीका और एशिया में उगाया जाता है। इस फल...

क्या आपने कभी खाई है जंगली इमली? जानिए इससे मिलने वाले फायदे

जंगली इमली एक ऐसा फल है, जिसका सेवन स्वास्थ्य को कई तरह के लाभ दे सकता है। इसे विलायती इमली और मनीला इमली भी...

सर्दी-खांसी होने पर तुरंत खा लेते हैं एंटीबायोटिक दवाएं? स्वास्थ्य के लिए है खतरा

सर्दी-खांसी से लेकर कई ऐसी छोटी-छोटी समस्याएं हैं, जिनसे तुरंत आराम पाने के चक्कर में ज्यादातर लोग डॉक्टरी सलाह के बिना ही धड़ल्ले से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

धर्म रक्षक धामी, उत्तराखंड में धर्मांतरण पर बना सख्त कानून, देशभर के साधु-संतों में हर्ष की लहर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को मिल रही...

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा में धर्मांतरण पर सख्त कानून बनने से देश के संत-समाज में हर्ष की लहर दौड़ गई है। तमाम साधु-संतों की ओर...

एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद, दूर होगी अस्पतालों में दवाइयों की...

देहरादून । उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में खाली पड़े पद जल्द भरे जायेंगे। स्वास्थ्य महानिदेशालय में हुई समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश...

आज थम जाएगा एमसीडी चुनाव को लेकर हो रहा प्रचार का शोर

दिल्ली। एमसीडी चुनाव को लेकर हो रहे प्रचार का शोर आज बंद हो जाएगा, लेकिन उम्मीदवार बिना किसी तामझाम के मतदाताओं से संपर्क साध सकते...

सीएम धामी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से शिष्टाचार भेंट कर दी जन्मदिवस की शुभकामना

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी नड्डा से शिष्टाचार भेंट की और...

पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी के बाद प्रदेशभर में बढ़ी ठंड, बद्रीनाथ धाम में भी पड़ रही कड़ाके की ठंड

चमोली। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद अब प्रदेशभर में ठंड बढ़ने लगी है। सुबह और शाम लोगों को अलाव...

खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित हुए शरत कमल

नयी दिल्ली।  भारत के दिग्गज टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल को यहां राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा मेजर ध्यान चंद खेल रत्न...

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए लिया बड़ा फैसला

देहरादून। प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था...

सरकार के जल शक्ति मंत्रालय का ट्विटर हैंडल हुआ हैक, जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसियां  

नई दिल्ली।  हैकर्स ने आज सुबह केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय का ट्विटर हैंडल हैक कर लिया। सिक्योरिटी एजेंसी और साइबर एक्सपर्ट इस मामले की...

राष्ट्रपति के दौरे को लेकर जिलाधिकारी ने दिए कार्यक्रम स्थलों पर व्यवस्था चाक-चौबंद बनाने के निर्देश

देहरादून। आगामी आठ दिसंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु दो दिवसीय दौरे पर दून पहुंच रही हैं। राष्ट्रपति यहां नौ नवंबर को पहले मसूरी में...

कृष्णा फल को डाइट में करें शामिल, मिलेंगे स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदे

कृष्णा फल एक पौष्टिक फल है, जिसे भारत समेत दक्षिण अमेरिका, कैरिबियन, दक्षिण फ्लोरिडा, दक्षिण अफ्रीका और एशिया में उगाया जाता है। इस फल...