Wednesday, December 7, 2022
Home ब्लॉग बिना नक्शे-कैलेंडर के भागता वक्त

बिना नक्शे-कैलेंडर के भागता वक्त

शमीम शर्मा

आज मेरे ज़हन में उस नौजवान की छवि उभर रही है जो सडक़ किनारे नक्शे और कैलेंडरों के बंडल लिये बैठा रहा करता। आते-जाते लोग उससे अपना मनपसंद कैलेंडर खरीदते। इन कैलेंडरों में गांधी-नेहरू से लेकर विवेकानंद, सुभाषचंद्र बोस, चन्द्रशेखर, भगतसिंह, लक्ष्मीबाई और फिल्मी हस्तियां माधुरी दीक्षित, सलमान खान तक के चित्र मिलते थे। कुछ कैलेंडरों में सुंदर सीनरी हुआ करतीं तो कुछ में फूल और पहाड़ हुआ करते। कुछ कैलेंडरों में लक्ष्मी-गणेश के चित्र होते तो कइयों में प्यारे-प्यारे बच्चों की तस्वीरें हुआ करतीं। पर अब वह कैलेंडर बेचने वाला दिखाई नहीं देता। पता नहीं वह किस धन्धे में जुट गया पर दीवारें उन कैलेंडरों को याद खूब करती होंगी।

नये साल पर देसी तिथियों वाले कैलेंडर की हमेशा मांग रहा करती। पर ज्यादातर अंग्रेजी कैलेंडर ही बिका करते। हर साल कई लोग तो 31 दिसंबर को यह बताने में जुट जाते हैं कि यह अपना नववर्ष नहीं है। साल भर जिस कैलेंडर का उपयोग करते हैं, उसी का बहिष्कार करने की अपीलें करते हैं। जो लोग वर्ष भर ग्रेगोरियन कैलेंडर को देखकर जन्मदिन और एनिवर्सरी मनाते हैं, उसी का तिरस्कार करते हैं। सत्य तो यह है कि आज की युवा पीढ़ी को पता तक नहीं है कि कौन-सा विक्रमी संवत चल रहा है।

कैलेंडरों की तो ऐसी की तैसी हुई सो हुई पर विज्ञान के विकास के साथ-साथ समय नक्शों को भी खा गया। जीपीएस आने के बाद नक्शे देखने का मौका ही नहीं मिला। बचपन के खेलों में यह भी शामिल था कि नक्शे में बड़े-बड़े शहरों को ढूंढ़ा करते। पर अब नक्शे पुराने ज़माने की चीज़ हो गये हैं। न स्कूल की दीवारों पर टंगे मिलते हैं और न ही घरों में।
चारों ओर गूगल मैप की तूती बोल रही है। इतनी तरक्की होने के बावजूद गूगल मैप अभी भी बताने में असमर्थ है कि प्यार हमें किस मोड़ पे ले आया। पति-पत्नी की लम्बी लड़ाई के बाद एक बात अवश्य कही जाती है कि भाड़ में जाओ। यह भाड़ कहां है किसी नक्शे में नहीं मिला। एक सत्य यह भी है कि जितने अपडेट भारत के नक्शे में हुए हैं, शायद किसी और देश के नक्शे में नहीं हुए होंगे।

एक देशप्रेमी की चेतावनी है कि गूगल मैप इस्तेमाल न करें, स्वदेशी बनें और नुक्कड़ पर स्थित पानवाले या चायवाले से ही रास्ता पूछें।

RELATED ARTICLES

गुजरात चुनाव में भाजपा का चेहरा नरेन्द्र मोदी

अजय दीक्षित पहली दिसम्बर को गुजरात में पहले चरण का मतदान हुआ । उस दिन देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 70 किलोमीटर का एक...

गलत रास्ता, गलत नतीजा

ब्रेग्जिट के हक में वोट करने वाले हर पांच में से एक व्यक्ति को अब लगता है कि उसका फैसला गलत था। तो अब...

कैसे बनें भारत महान ?

अजय दीक्षित आज एक सवाल पूछिए खुद अपने आपसे  ।  कभी मानिए अलादीन का चिराग मिल जाये आपको, और सिर्फ एक ही वरदान मांगने की...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

CM धामी ने डी.आई.टी कॉलेज में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को डी.आई.टी कॉलेज, देहरादून में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला...

कल जारी होंगे पुलिस कांस्टेबल भर्ती के एडमिट कार्ड

देहरादून। प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल के 1521 पदों पर भर्ती की परीक्षा के लिए उत्तराखंड लोक सेवा आयोग आठ दिसंबर को एडमिट कार्ड जारी करेगा।...

उच्च शिक्षा विभाग में रिटायरमेंट के करीब तो अब नहीं बन सकेंगे निदेशक, जानिए वजह

देहरादून। उच्च शिक्षा विभाग में डॉ. ललित प्रसाद शर्मा मात्र 11 दिन और डॉ. गंगोत्री त्रिपाठी व डॉ. नारायण प्रकाश माहेश्वरी 30-30 दिन के...

24 दिसंबर को होंगे उत्‍तराखंड के डिग्री कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव

देहरादून। राज्य में छात्रसंघ चुनाव 24 दिसंबर को होंगे। कुमाऊं विवि, अल्मोड़ा विवि अन्य विवि के कुलपतियों की कमेटी की बैठक में यह निर्णय...

हिमाचल विधानसभा चुनाव: रिवाज बदलेगा या राज, कड़े मुकाबले के बीच होगा कल फैसला

हिमाचल। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनावी नतीजे गुरुवार 8 दिसंबर को आएंगे। इसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की धुकधुकी बढ़ गई है।...

चारधाम यात्रा में हेली सेवाओं के टिकटों की कालाबाजारी रोकने को लेकर CM धामी ने दिए सख्त निर्देश

देहरादून। चारधाम यात्रा में हेली सेवाओं के टिकटों की कालाबाजारी रोकने को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सख्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों को...

फिर विवादों में एलन मस्क , इंसानी दिमाग में चिप लगाने वाली कंपनी के खिलाफ जांच शुरू

वॉशिंगटन।  ट्विटर के मालिक और अरबपति कारोबारी एलन मस्क मुसीबत में फंसते नजर आ रहे हैं। इंसानी दिमाग में चिप लगाने का दावा करने...

प्री-डायबिटीज से बचाव के लिए अपनाएं ये 5 तरीके

प्री-डायबिटीज का मतलब है कि आपके रक्त शर्करा का स्तर सामान्य से अधिक हो रहा है, जिसे समय रहते नियंत्रित करना महत्वपूर्ण है। अगर...

कांतारा में गाने वराह रूपम की हुई वापसी, बैन हटने के बाद दर्शकों ने जताई खुशी

ऋषभ शेट्टी की फिल्म कांतारा सिनेमाघरों में धमाल मचाने के बाद कुछ समय पहले ही ओटीटी पर रिलीज हुई है। हालांकि, दर्शक फिल्म में...

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के प्रस्तावित भ्रमण कार्यक्रम को लेकर दून पुलिस ने की सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था

देहरादून।  राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के आठ और नौ दिसंबर को प्रस्तावित भ्रमण कार्यक्रम के लिए दून पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की है। राष्ट्रपति...