Wednesday, December 7, 2022
Home बिज़नेस पिछले साल की तुलना में आलू और प्याज की कीमतों में दिखी...

पिछले साल की तुलना में आलू और प्याज की कीमतों में दिखी गिरावट

नई दिल्ली (राष्ट्रमीडिया डेस्क)। पिछले साल की तुलना में आलू से लेकर प्याज तक की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है। उपभोक्‍ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने इस बात की जानकारी दी।

मिनिस्ट्री ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स, फूड एंड पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन ने कहा कि उपभोक्ता मामलों के विभाग ने कीमतों को कम करने और न्यूनतम भंडारण हानि सुनिश्चित करने के दोहरे उद्देश्यों के लिए अगस्त, 2021 के अंतिम सप्ताह से फर्स्ट-इन-फर्स्ट-आउट (एफआईएफओ) के सिद्धांत पर बफर से प्याज सोच समझकर और लक्षित रूप से जारी की गई है।

परिणामस्वरूप दिल्ली में इस वर्ष 14 अक्टूबर को प्याज का मूल्य 44 रुपये प्रति किलोग्राम रहा। इसी प्रकार मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में कीमतें क्रमशः 45 रुपये, 57 रुपये और 42 रुपये प्रति किलोग्राम रहीं।

मिनिस्ट्री ने कहा, “14.10.2021 को प्याज की अखिल भारतीय खुदरा कीमतें 37.06 रुपये प्रति किलोग्राम रहीं, जबकि प्याज का अखिल भारतीय थोक मूल्य 3,002.25 रुपये प्रति क्विंटल रहा।”

प्याज लक्षित रूप से ऐसे राज्यों/ केन्द्र शासित प्रदेशों को जारी किया जा रहा है, जहां कीमतें अखिल भारतीय औसत से ज्यादा थीं और जहां पिछले महीने की तुलना में कीमतें बढ़ रही हैं।

मिनिस्ट्री ने कहा, “12 अक्टूबर, 2021 को दिल्ली, कोलकाता, लखनऊ, पटना, रांची, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, हैदराबाद, बंगलुरू, चेन्नई, मुंबई, चंडीगढ़, कोच्चि और रायपुर जैसे प्रमुख बाजारों में कुल 6,73,567 एमटी प्याज जारी किया गई। इसके अलावा, ग्रेड-बी की प्याज (वह भंडार जो फेयर एवरेज क्वालिटी- एफएक्यू से कमतर है) को महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात जैसे स्थानीय बाजारों में निस्तारित किया गया।”

कीमतों में नरमी रखने के लिए किए प्रभावी हस्तक्षेप

बाजार में जारी करने के अलावा, उपभोक्ता मामलों के विभाग ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को भंडारण वाले स्थानों से उठान के लिए बफर से 21 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्याज की पेशकश की। इससे राज्य/ केन्द्र शासित प्रदेश कीमतों को नीचे लाने के लिए खुद बाजार हस्तक्षेप या प्रमुख बाजारों में खुदरा आउटलेट्स के माध्यम से या खुदरा उपभोक्ताओं को जारी करने में सक्षम हो जाएंगे। खुदरा मार्केटिंग में लगी केन्द्र/ राज्य एजेंसियों को 21 रुपये/किलोग्राम या ढुलाई लागत सहित उतार मूल्य पर स्टॉक उपलब्ध है। सफल ने 26 रुपये प्रति किलोग्राम के मूल्य पर पेशकश की है।

कीमतों में नरमी रखने के लिए प्रभावी बाजार हस्तक्षेप के उद्देश्य से मूल्य स्थिरीकरण कोष (पीएसएफ) के तहत उपभोक्ता मामलों के विभाग द्वारा प्याज के बफर का रखरखाव किया जाता है। 2021-22 में, 2 एलएमटी प्याज का बफर तैयार करने के लक्ष्य के विपरीत अप्रैल से जुलाई, 2021 के दौरान रबी-2021 फसल से कुल 2.08 लाख एलएमटी की खरीद की गई थी।

इसी प्रकार, आलू और टमाटर की कीमतों में नरमी रखने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। दिल्ली में आलू और प्याज की खुदरा कीमत क्रमशः 20 रुपये और 56 रुपये प्रति किलो हैं। आलू और टमाटर की अखिल भारतीय खुदरा कीमतें क्रमशः 21.22 रुपये प्रति किलोग्राम और 41.73 रुपये प्रति किलोग्राम हैं।

RELATED ARTICLES

फिर विवादों में एलन मस्क , इंसानी दिमाग में चिप लगाने वाली कंपनी के खिलाफ जांच शुरू

वॉशिंगटन।  ट्विटर के मालिक और अरबपति कारोबारी एलन मस्क मुसीबत में फंसते नजर आ रहे हैं। इंसानी दिमाग में चिप लगाने का दावा करने...

सैमसंग भारत में 1,000 इंजीनियरों की करेगा नियुक्ति

नई दिल्ली। ऐसे समय में जब बड़ी टेक कंपनियां दुनिया भर में हजारों कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं, सैमसंग ने कहा कि वह भारत...

चुनावी माहौल के बीच जारी हुए पेट्रोल-डीजल के नए दाम

नई दिल्ली। देश में इन दिनों चुनावी माहौल है, जहां एक और गुजरात विधानसभा चुनाव में अपने शुरुआती चरण को पूरा कर दूसरे चरण की...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

CM धामी ने डी.आई.टी कॉलेज में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को डी.आई.टी कॉलेज, देहरादून में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला...

कल जारी होंगे पुलिस कांस्टेबल भर्ती के एडमिट कार्ड

देहरादून। प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल के 1521 पदों पर भर्ती की परीक्षा के लिए उत्तराखंड लोक सेवा आयोग आठ दिसंबर को एडमिट कार्ड जारी करेगा।...

उच्च शिक्षा विभाग में रिटायरमेंट के करीब तो अब नहीं बन सकेंगे निदेशक, जानिए वजह

देहरादून। उच्च शिक्षा विभाग में डॉ. ललित प्रसाद शर्मा मात्र 11 दिन और डॉ. गंगोत्री त्रिपाठी व डॉ. नारायण प्रकाश माहेश्वरी 30-30 दिन के...

24 दिसंबर को होंगे उत्‍तराखंड के डिग्री कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव

देहरादून। राज्य में छात्रसंघ चुनाव 24 दिसंबर को होंगे। कुमाऊं विवि, अल्मोड़ा विवि अन्य विवि के कुलपतियों की कमेटी की बैठक में यह निर्णय...

हिमाचल विधानसभा चुनाव: रिवाज बदलेगा या राज, कड़े मुकाबले के बीच होगा कल फैसला

हिमाचल। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनावी नतीजे गुरुवार 8 दिसंबर को आएंगे। इसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की धुकधुकी बढ़ गई है।...

चारधाम यात्रा में हेली सेवाओं के टिकटों की कालाबाजारी रोकने को लेकर CM धामी ने दिए सख्त निर्देश

देहरादून। चारधाम यात्रा में हेली सेवाओं के टिकटों की कालाबाजारी रोकने को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सख्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों को...

फिर विवादों में एलन मस्क , इंसानी दिमाग में चिप लगाने वाली कंपनी के खिलाफ जांच शुरू

वॉशिंगटन।  ट्विटर के मालिक और अरबपति कारोबारी एलन मस्क मुसीबत में फंसते नजर आ रहे हैं। इंसानी दिमाग में चिप लगाने का दावा करने...

प्री-डायबिटीज से बचाव के लिए अपनाएं ये 5 तरीके

प्री-डायबिटीज का मतलब है कि आपके रक्त शर्करा का स्तर सामान्य से अधिक हो रहा है, जिसे समय रहते नियंत्रित करना महत्वपूर्ण है। अगर...

कांतारा में गाने वराह रूपम की हुई वापसी, बैन हटने के बाद दर्शकों ने जताई खुशी

ऋषभ शेट्टी की फिल्म कांतारा सिनेमाघरों में धमाल मचाने के बाद कुछ समय पहले ही ओटीटी पर रिलीज हुई है। हालांकि, दर्शक फिल्म में...

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के प्रस्तावित भ्रमण कार्यक्रम को लेकर दून पुलिस ने की सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था

देहरादून।  राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के आठ और नौ दिसंबर को प्रस्तावित भ्रमण कार्यक्रम के लिए दून पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की है। राष्ट्रपति...