Friday, December 2, 2022
Home मनोरंजन गोल्डन वीजा पाने वाली फर्स्ट इंडियन फीमेल एक्ट्रेस बनीं उर्वशी

गोल्डन वीजा पाने वाली फर्स्ट इंडियन फीमेल एक्ट्रेस बनीं उर्वशी

यूएई/मुंबई (राष्ट्रमीडिया डेस्क)। बॉलीवुड अभिनेत्री उर्वशी रौतेला को संयुक्त अरब अमीरात का गोल्डन वीजा (UAE Golden Visa) दिया गया है। उर्वशी गोल्डन वीजा पाने वाली फर्स्ट इंडियन फीमेल एक्ट्रेस बनीं हैं।

इससे पहले हाल ही में कैंसर से जिंदगी की जंग जीतकर काम पर वापस लौटे बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त (Sanjay Dutt) को संयुक्त अरब अमीरात का गोल्डन वीजा (यूएई का गोल्डन वीजा) दिया गया था। यह वीजा पाने वाली संजय पहले बॉलीवुड एक्टर थे।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बॉलीवुड अभिनेत्री ने इस बात की जानकारी खुद शेयर की। एक्ट्रेस उर्वशी ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम से एक तस्वीर पोस्ट की।

https://www.instagram.com/p/CUcfTsVIFCh/?utm_medium=copy_link

उन्होंने तस्वीर के नीचे लिखा, “पहली भारतीय महिला अभिनेत्री जिसने 10 सालों के लिए यूएई का गोल्डन वीजा प्राप्त किया, वह भी 112 घंटों में। मेरे और मेरे परिवार के लिए इस अद्भुत पहचान के लिए गोल्डन रेजिडेंसी के साथ आई फील सो ग्रेट फूल एंड ऑनर्ड। प्रिय संयुक्त अरब अमीरात सरकार, यहां के शासक और लोगों के लिए माई बेस्ट विशेज।”

कौन है उर्वशी रौतेला ?

खूबसूरती के मामले में सबको पीछे छोड़ने वाली एक्ट्रेस उर्वशी रौतेला (Urvashi Rautela) किसी परिचय की मोहताज नहीं। इंडियन बॉलीवुड एक्ट्रेस एंड मॉडल उर्वशी ने बॉलीवुड फिल्म कैरियर की शुरुआत फिल्म ‘सिंह साब द ग्रेट’ से की थी। 2012 में आई एम सी- मिस इंडिया में विजेता रही उर्वशी उत्तराखंड के कोटद्वार से आती हैं। अपने होम टाउन से निकलकर बाद में उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन गार्गी कॉलेज, डेल्ही यूनिवर्सिटी से प्राप्त की।

क्या है गोल्डन वीजा ?

यूएई सरकार ने 2019 में लंबी अवधि के निवास वीजा के लिए एक नई प्रणाली लागू की थी, जिससे विदेशियों को राष्ट्रीय प्रायोजक की आवश्यकता के बिना यूएई में रहने, काम करने और पढ़ाई करने में सक्षम बनाया गया। ये गोल्डन वीजा 5 या 10 साल के लिए जारी किए जाते हैं और स्वचालित रूप से रिन्यू हो जाते हैं।

कौन कर सकता है आवेदन ?

नीचे उन प्रोफेशन की लिस्ट दी गई है, जो 10 साल के गोल्डन वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

1. पीएचडी डिग्री धारक: कानून के तहत, पीएचडी डिग्री रखने वाले पेशेवरों को गोल्डन वीजा दिया जाएगा। व्यक्ति के पास दुनिया के शीर्ष 500 विश्वविद्यालयों में से एक से पीएचडी की डिग्री होनी चाहिए।

2. डॉक्टर: डॉक्टर्स को 10 साल का वीजा प्राप्त करने की अनुमति है। इससे यूएई को महामारी से बेहतर तरीके से निपटने और देश में चिकित्सा पेशेवरों की कमी को पूरा करने में मदद मिलेगी।

3. इंजीनियर्स: इस विशेष क्षेत्र में प्रतिभाओं को आकर्षित करने के लिए, कंप्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक्स, प्रोग्रामिंग, इलेक्ट्रिकल्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, एआई और बिग डेटा के क्षेत्र के सभी इंजीनियर गोल्डन वीजा प्राप्त कर सकते हैं।

4. उच्च योग्यता प्राप्त व्यक्ति: संयुक्त अरब अमीरात उच्च योग्यता प्राप्त व्यक्तियों को 10 साल का वीजा भी प्रदान करता है, जिन्होंने अनुमोदित विश्वविद्यालयों से 3.8 या अधिक अंक प्राप्त किए हैं।

5. शोधकर्ता/वैज्ञानिक: इसमें वे शोधकर्ता और वैज्ञानिक शामिल हैं, जो अपने-अपने क्षेत्र के विशेषज्ञ हैं।

6. आविष्कारक: संयुक्त अरब अमीरात भी आविष्कारकों को स्वर्ण वीजा प्रदान करता है लेकिन उन्हें मूल्य का पेटेंट प्राप्त करना होगा, जो संयुक्त अरब अमीरात की अर्थव्यवस्था में जोड़ता है। पेटेंट को अर्थव्यवस्था मंत्रालय द्वारा अनुमोदित किया जाना चाहिए।

RELATED ARTICLES

थलाइवी के बाद कंगना रनौत के हाथ लगी एक और तमिल फिल्म, निभाएंगी चंद्रमुखी का किरदार

अभिनेत्री कंगना रनौत की तमिल फिल्म थलाइवी पिछले साल दर्शकों के बीच आई थी। यह फिल्म नहीं चल पाई, लेकिन उनके अभिनय को पसंद...

बिग बॉस के घर फिर पहुंचीं राखी सावंत, ली वाइल्ड कार्ड एंट्री

अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली ड्रामा क्वीन राखी सावंत फिर चर्चा में हैं और इस बार उन्हें सुर्खियों में लेकर...

रणवीर सिंह की सर्कस का टीजर जारी, डबल रोल में दिखे अभिनेता

अभिनेता रणवीर सिंह की कॉमेडी फिल्म सर्कस जल्द सिनेमाघरों में दस्तक देगी। फिल्म क्रिसमस के अवसर पर 23 दिसंबर को दर्शकों के बीच आ...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

धर्म रक्षक धामी, उत्तराखंड में धर्मांतरण पर बना सख्त कानून, देशभर के साधु-संतों में हर्ष की लहर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को मिल रही...

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा में धर्मांतरण पर सख्त कानून बनने से देश के संत-समाज में हर्ष की लहर दौड़ गई है। तमाम साधु-संतों की ओर...

एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद, दूर होगी अस्पतालों में दवाइयों की...

देहरादून । उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में खाली पड़े पद जल्द भरे जायेंगे। स्वास्थ्य महानिदेशालय में हुई समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश...

आज थम जाएगा एमसीडी चुनाव को लेकर हो रहा प्रचार का शोर

दिल्ली। एमसीडी चुनाव को लेकर हो रहे प्रचार का शोर आज बंद हो जाएगा, लेकिन उम्मीदवार बिना किसी तामझाम के मतदाताओं से संपर्क साध सकते...

सीएम धामी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से शिष्टाचार भेंट कर दी जन्मदिवस की शुभकामना

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी नड्डा से शिष्टाचार भेंट की और...

पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी के बाद प्रदेशभर में बढ़ी ठंड, बद्रीनाथ धाम में भी पड़ रही कड़ाके की ठंड

चमोली। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद अब प्रदेशभर में ठंड बढ़ने लगी है। सुबह और शाम लोगों को अलाव...

खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित हुए शरत कमल

नयी दिल्ली।  भारत के दिग्गज टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल को यहां राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा मेजर ध्यान चंद खेल रत्न...

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए लिया बड़ा फैसला

देहरादून। प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था...

सरकार के जल शक्ति मंत्रालय का ट्विटर हैंडल हुआ हैक, जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसियां  

नई दिल्ली।  हैकर्स ने आज सुबह केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय का ट्विटर हैंडल हैक कर लिया। सिक्योरिटी एजेंसी और साइबर एक्सपर्ट इस मामले की...

राष्ट्रपति के दौरे को लेकर जिलाधिकारी ने दिए कार्यक्रम स्थलों पर व्यवस्था चाक-चौबंद बनाने के निर्देश

देहरादून। आगामी आठ दिसंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु दो दिवसीय दौरे पर दून पहुंच रही हैं। राष्ट्रपति यहां नौ नवंबर को पहले मसूरी में...

कृष्णा फल को डाइट में करें शामिल, मिलेंगे स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदे

कृष्णा फल एक पौष्टिक फल है, जिसे भारत समेत दक्षिण अमेरिका, कैरिबियन, दक्षिण फ्लोरिडा, दक्षिण अफ्रीका और एशिया में उगाया जाता है। इस फल...