Tuesday, November 29, 2022
Home उत्तराखंड 'वीर बडु का देस है' गढ़वाल : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

‘वीर बडु का देस है’ गढ़वाल : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

देहरादून (राष्ट्रमीडिया डेस्क)। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तराखंड को वीरों का गढ़ बताया और कहा कि यहां बहादुरी और पराक्रम के किस्से मशहूर है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड की यह धरती भारत ही नहीं पूरी दुनिया में ‘देवभूमि’ के नाम से जानी जाती है। मगर यह देवभूमि एक ‘वीरभूमि और तपोभूमि’ भी है, यह हमें कभी नहीं भूलना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री ने पीठसैण में शुक्रवार को वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की प्रतिमा के अनावरण समारोह में बोलते हुए कहा, “यहां सम्मिलित होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली एक सच्चे सैनिक तो थे ही साथ ही वे एक प्रखर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भी थे। उन्होंने अंग्रेजों भारत छोड़ों आन्दोलन में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।”

राजनाथ सिंह ने कहा, “वैसे तो उत्तराखण्ड राज्य का गठन हुए केवल बीस वर्षों का समय ही बीता है मगर उत्तराखण्ड का इतिहास और यहां की परम्पराएं तो सदियों पुरानी हैं। यह गढ़वाल तो ‘वीर बडु का देस है’ :बावन गढ़ का देस’ है। हर गढ़ में बहादुरी और पराक्रम के किस्से मशहूर है।”

रक्षामंत्री ने राज्य के वीरों को याद करते हुए कहा, “वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली, माधो सिंह भंडारी और तीलू रोतली की बहादुरी के गीत गढ़वाल के गांव-गांव में गाए जाते हैं। आज जिन वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की प्रतिमा का अनावरण यहां हो रहा है, वे कर्म और धर्म दोनों से सैनिक थे। एक सैनिक का धर्म होता है देश और समाज की रक्षा करना। अंग्रेजी हुकूमत में वे फौज के भर्ती हुए। वह दौर प्रथम विश्व युद्ध का दौर था और अंग्रेजी फौज की तरफ से उन्हें लड़ने के लिए फ्रांस भेजा गया।”

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, “भारतीय सैनिकों की बहादुरी, बलिदान और प्रोफेशनलिज्म का परिचय पूरी दुनिया को प्रथम विश्व युद्ध के दौरान हुआ। वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली न केवल फ्रांस में लड़े बल्कि मेसोपोटेमिया में भी 1917 में उन्हें लड़ने के लिए भेजा गया।”

केंद्रीय सरकार के कार्यों पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा, “यह सुखद संयोग है कि आज जब वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली जी की प्रतिमा का अनावरण हो रहा है तो देश अपनी आजादी का अमृत महोत्सव भी मना रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में पिछले साढ़े सात वर्षों में ‘मिशन मोड’ में काम हुआ है।”

उन्होंने आगे कहा, “बरसों से जो काम रूके पड़े थे उनको पूरा करने का प्रयास हुआ है। चालीस साल तक देश के पूर्व सैनिकों को ओआरओपी (OROP) के लिए इंतजार करना पड़ा। मगर मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद ओआरओपी लागू कर दिया।”

इस दौरान रक्षा मंत्री ने भारतीय सेना के पराक्रम की भी चर्चा की। उन्होंने सैनिक धर्म का जिक्र कर कहा, “गलवान में मातृभूमि की रक्षा करने के लिए संघर्ष करने की नौबत आई, तो बिहार रेजीमेंट के बहादुरों ने देश के मान-सम्मान की रक्षा की और एक इंच जमीन भी जाने नहीं दी। जिस शौर्य, सूझबूझ और संयम का परिचय भारतीय सेना ने दिया है वह इस देश के ‘सच्चे सैनिक धर्म’ की पहचान है।”

 

RELATED ARTICLES

CM धामी ने थत्यूड़ में किया विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास

टिहरी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने अठजूला क्रीड़ा...

सेंटर फॉर एक्सीलेंस को लेकर मंत्री जोशी ने अधिकारियों को एक सप्ताह में एक्शन प्लान बनाने के दिए निर्देश

देहरादून। कृषि एवं उद्यान मंत्री गणेश जोशी ने सोमवार को सचिवालय स्थित एफआरडीसी सभागार में उद्यान विभाग के अधिकारियों के साथ एक सप्ताह पूर्व हुई...

जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर विदेशी नागरिक के पास सेटेलाइट फोन मिलने से मचा हड़कंप

देहरादून। जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर एक विदेशी नागरिक के पास से सेटेलाइट फोन बरामद होने के बाद हड़कंप मच गया । मामले की रिपोर्ट सीआइएसफ की महिला...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

CM धामी ने थत्यूड़ में किया विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास

टिहरी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने अठजूला क्रीड़ा...

सेंटर फॉर एक्सीलेंस को लेकर मंत्री जोशी ने अधिकारियों को एक सप्ताह में एक्शन प्लान बनाने के दिए निर्देश

देहरादून। कृषि एवं उद्यान मंत्री गणेश जोशी ने सोमवार को सचिवालय स्थित एफआरडीसी सभागार में उद्यान विभाग के अधिकारियों के साथ एक सप्ताह पूर्व हुई...

जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर विदेशी नागरिक के पास सेटेलाइट फोन मिलने से मचा हड़कंप

देहरादून। जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर एक विदेशी नागरिक के पास से सेटेलाइट फोन बरामद होने के बाद हड़कंप मच गया । मामले की रिपोर्ट सीआइएसफ की महिला...

देहरादून चंद्रमणि चौक पर हुआ बड़ा हादसा, बेकाबू ट्रक ने कई लोगों को कुचला

देहरादून। चंद्रमणि चौक पर बड़ा हादसा हो गया,  यहां एक बेकाबू ट्रक ने कई लोगों को कुचल दिया। हादसे में एक की मौत हुई और...

विधानसभा सत्र के चलते पुलिस ने तैयार किया डायवर्जन प्लान, जानिए क्या रहेगा ट्रैफिक प्लान

देहरादून। विधानसभा सत्र के मद्देनजर पुलिस ने डायवर्जन प्लान तैयार किया है। इसके तहत रिस्पना की ओर से कोई भी भारी वाहन हरिद्वार की...

किन्नौर बनेगा ड्रोन से सेब और मटर की ढुलाई करने वाला पहला जिला

हिमाचल। किन्नौर का मटर और सेब जल्द ही ड्रोन की मदद से मुख्य सड़क तक पहुंचेगा। सेब की 20 किलो की पेटी को ड्रोन के...

फेसबुक- इंस्टाग्राम को टक्कर देगा जिओ, यूजर्स को मिलेगा शॉर्ट वीडियो ऐप

मुंबई। शॉर्ट वीडियो ऐप की दुनिया में फेसबुक और इस्टाग्राम को तगड़ी टक्कर मिलने वाली है। मेटा के रील फीचर से मुकाबला करने के लिए...

हरिद्वार में शराब के नशे में धुत युवकों ने बोनट पर लटके व्यक्ति को लेकर पूरी रफ्तार में दौड़ाई कार

हरिद्वार। कनखल में कार से टक्कर मारने के बाद शराब के नशे में धुत युवकों ने बोनट पर लटके व्यक्ति को लेकर पूरी रफ्तार से...

माइग्रेन से लेकर साइनस तक, जानें क्या है विभिन्न प्रकार के सिरदर्द में अंतर

सिरदर्द एक बेहद आम समस्या है। यह कई तरह के होते हैं और हर एक के अपने कारण, लक्षण और उपचार के विकल्प भी...

अंकिता भंडारी हत्याकांड- किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच पाई एसआइटी, आरोपितों का हो सकता है नार्को टेस्ट

देहरादून। वनंतरा रिसार्ट में कार्यरत युवती की हत्या के मामले में एसआइटी करीब ढाई महीने बाद भी किसी ठोस नतीजे तक नहीं पहुंच पाई है।...