Friday, December 2, 2022
Home उत्तराखंड वोकल फॉर लोकल पर खरे उतरते पत्रकार शिव प्रसाद सेमवाल, डोईवाला सीट...

वोकल फॉर लोकल पर खरे उतरते पत्रकार शिव प्रसाद सेमवाल, डोईवाला सीट पर यूकेडी के टिकट पर लड़ रहे हैं चुनाव

देहरादून। जाने-माने खोजी पत्रकार शिव प्रसाद सेमवाल उत्तराखंड में किसी पहचान के मोहताज नहीं है। हमेशा कलम के जरिए राजनीति में व्याप्त भ्रष्टाचार व राजनेताओं पर कड़ा प्रहार करने वाले सेमवाल खुद राजनीति में आ गये। यहीं नहीं यूकेडी के टिकट पर डोईवाला से चुनावी दंगल में है। सेमवाल कहते हैं कि में सत्ता की मलाई खाने नहीं बद्लाव की शुरूआत करने के लिए राजनीति में आया हूं। इसके लिए मैने उस दल को चुना जिसने राज्य निर्माण में अहम भूमिका निभाई और हाशिए पर है। हम सबकी जिम्मेदारी है कि हम क्षेत्रीय दल को मजबूत करें। देश के जिस भी राज्य में क्षेत्रीय दल की स्थिति मजबूत होगी उस राज्य में मूलभूत समस्याएं नहीं होंगी। सेमवाल कहते हैं उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की नीति रीतियों व उन पर लग रहे तमाम आरोपों के बाद डोईवाला से चुनावी ताल ठोकी थी। लेकिन उससे पहले ही त्रिवेन्द्र सिंह रावत पूर्व मुख्यमंत्री हो गये और अब वह चुनाव मैदान छोड़कर ही भाग गए। मैं लंबे समय से डोईवाला की जनता के बीच हैं। जहां वह घर-घर यूकेडी अभियान के तहत घर घर संपर्क साध कर आम जनमानस को यूकेडी और अपनी रीति नीतियों से अवगत करा रहे हूं।

शिव प्रसाद सेमवाल कहते हैं जब तक दिल्ली वाले दलों के बड़े नेताओं की कृपा पर टिकट तय होगा, मंत्री पद और मंत्रालय तय होंगे, राज्यमंत्री व दायित्वधारी तय होते रहेंगे, तब तक वे उन्ही के इशारे पर उन्हीं के लोगों की चाकरी करने को विवश रहेंगे। रोजगार उनके, ठेकेदारी उनकी, मशीनें उनकी, हम बस रुटफराते रहेंगे। इसीलिए पार्टियों का बचाव मत कीजिए, राज्य का बचाव कीजिए। शेष जैसी प्रजा वैसे राजा। सेमवाल कहते हैं डोईवाला के लोग पिछले 20 सालों से एक जैसी समस्याओं से जूझ रहे हैं लेकिन कांग्रेस और भाजपा ने 10-10 साल राज करने के बावजूद पेयजल, सार्वजनिक, नालियों के निर्माण जैसी समस्याओं का भी समाधान नहीं किया। क्षेत्र में लोग लो वोल्टेज की समस्या से भी बहुत परेशान हैं।

यूकेडी प्रत्याशी शिव प्रसाद सेमवाल के मुताबिक लोगों में इस बार वोकल फॉर लोकल का बहुत रुझान है और लोग भी चाहते हैं कि 20 साल से दिल्ली वाले दलों की सरकारें देखने के बाद इस बार लोकल पार्टी और लोकल प्रत्याशी को चुना जाना चाहिए। महिलाएं सबसे ज्यादा दुखी और प्रभावित महसूस करती हैं, जब उनके परिवार में उनके बेटे भाई अथवा पिता और अन्य नाते रिश्तेदारों को कोई कष्ट होता है। प्रदेश में बढ़ रही बेरोजगारी महंगाई और नशाखोरी से महिलाएं सबसे ज्यादा गुस्सा हैं और इस बार हमारी माताओं बहनों को भी यह बात बड़ी शिद्दत से महसूस होती है कि..क्षेत्रीय दल ही आम जनता की उम्मीदों को पूरा कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद, दूर होगी अस्पतालों में दवाइयों की...

देहरादून । उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में खाली पड़े पद जल्द भरे जायेंगे। स्वास्थ्य महानिदेशालय में हुई समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश...

सीएम धामी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से शिष्टाचार भेंट कर दी जन्मदिवस की शुभकामना

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी नड्डा से शिष्टाचार भेंट की और...

पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी के बाद प्रदेशभर में बढ़ी ठंड, बद्रीनाथ धाम में भी पड़ रही कड़ाके की ठंड

चमोली। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद अब प्रदेशभर में ठंड बढ़ने लगी है। सुबह और शाम लोगों को अलाव...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद, दूर होगी अस्पतालों में दवाइयों की...

देहरादून । उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में खाली पड़े पद जल्द भरे जायेंगे। स्वास्थ्य महानिदेशालय में हुई समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश...

आज थम जाएगा एमसीडी चुनाव को लेकर हो रहा प्रचार का शोर

दिल्ली। एमसीडी चुनाव को लेकर हो रहे प्रचार का शोर आज बंद हो जाएगा, लेकिन उम्मीदवार बिना किसी तामझाम के मतदाताओं से संपर्क साध सकते...

सीएम धामी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से शिष्टाचार भेंट कर दी जन्मदिवस की शुभकामना

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी नड्डा से शिष्टाचार भेंट की और...

पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी के बाद प्रदेशभर में बढ़ी ठंड, बद्रीनाथ धाम में भी पड़ रही कड़ाके की ठंड

चमोली। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद अब प्रदेशभर में ठंड बढ़ने लगी है। सुबह और शाम लोगों को अलाव...

खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित हुए शरत कमल

नयी दिल्ली।  भारत के दिग्गज टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल को यहां राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा मेजर ध्यान चंद खेल रत्न...

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए लिया बड़ा फैसला

देहरादून। प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था...

सरकार के जल शक्ति मंत्रालय का ट्विटर हैंडल हुआ हैक, जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसियां  

नई दिल्ली।  हैकर्स ने आज सुबह केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय का ट्विटर हैंडल हैक कर लिया। सिक्योरिटी एजेंसी और साइबर एक्सपर्ट इस मामले की...

राष्ट्रपति के दौरे को लेकर जिलाधिकारी ने दिए कार्यक्रम स्थलों पर व्यवस्था चाक-चौबंद बनाने के निर्देश

देहरादून। आगामी आठ दिसंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु दो दिवसीय दौरे पर दून पहुंच रही हैं। राष्ट्रपति यहां नौ नवंबर को पहले मसूरी में...

कृष्णा फल को डाइट में करें शामिल, मिलेंगे स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदे

कृष्णा फल एक पौष्टिक फल है, जिसे भारत समेत दक्षिण अमेरिका, कैरिबियन, दक्षिण फ्लोरिडा, दक्षिण अफ्रीका और एशिया में उगाया जाता है। इस फल...

थलाइवी के बाद कंगना रनौत के हाथ लगी एक और तमिल फिल्म, निभाएंगी चंद्रमुखी का किरदार

अभिनेत्री कंगना रनौत की तमिल फिल्म थलाइवी पिछले साल दर्शकों के बीच आई थी। यह फिल्म नहीं चल पाई, लेकिन उनके अभिनय को पसंद...